Wednesday, February 28, 2024
Homeorganic-farmingसर्दियों के मौसम में घर पर लगाई जाने वाली सब्जियां – Grow...

सर्दियों के मौसम में घर पर लगाई जाने वाली सब्जियां – Grow These Winter Vegetables At Home in Hindi

Table of Contents

भारत में सर्दी के मौसम में कौन सी फसलें उगाई जाती हैं? सर्दियों में कौन सी सब्जियां उगाना सबसे अच्छा है? अगर आप भी इन सवालों के जवाब खोज रहे हैं तो आप बिलकुल सही जगह आये हैं, भारत में सर्दी का मौसम सब्जियों को उगाने के लिए सबसे अच्छा समय होता है, आप इस मौसम में कई प्रकार की सब्जियों को उगा सकते हैं। आज हम आपको सर्दियों के मौसम की उन सब्जियों के बारे में बताएंगे, जिन्हें आप अपने टेरेस गार्डन में आसानी से उगा सकते हैं, और उच्च उत्पादन प्राप्त कर सकते हैं। विंटर सीजन को रबी की फसलों का मौसम भी कहा जाता है, तापमान कम होने की वजह से सब्जियां अच्छी तरह से ग्रोथ करती हैं। आप ठंड के मौसम में यानि कि नवंबर से फरवरी तक कई प्रकार की रंगीन और पौष्टिक सब्जियां गमले में उगा सकते हैं। आइये विंटर सीजन में लगाई/उगाई जाने वाली सब्जियों के नाम और बीजों को उगाने से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण बातों के बारे में जानते हैं।

सर्दी के मौसम में कौन सी फसलें उगाई जाती हैं – Vegetables that can be grown during the winter in Hindi

विंटर यानि सर्दियों के मौसम में उगाई जाने वाली सब्जियों के नाम और सब्जियों के बीज खरीदने की जानकारी नीचे टेबल में दी गई हैं:

No.
सब्जी का नाम
यहाँ से खरीदें
1.
टमाटर (Tomato)
2.
धनिया (Coriander)
3.
मटर (Peas)
4.
बैंगन (brinjal)
5.
फ्रेंच बीन्स (french beans)
6.
प्‍याज (onions)
7.
मूली (Radish)
8.
करेला (Bitter gourd)
9.
लेटस (lettuce)
10.
पालक (Spinach)
11.
चुकंदर (Beetroot)
12.
भिन्डी (Okra)
13.
गाजर (Carrot)
14.
शलजम (Tumip)
15.
फूलगोभी (Cauliflower)
16.
केल (kale)
17.
ब्रोकोली (Broccoli)
18.
पत्ता गोभी (Cabbage)
19.
शिमला मिर्च (capsicums)
20.
जुकिनी (zucchini)
21.
खीरा (cucumbers)
22.
मिर्च (Chillies)
23.
कद्दू (pumpkins)
24.
स्क्वैश (squash)
25.
खरबूजा (melons)
26.
लहसुन (Garlic)
27.
आलू (potatoes)

ठंड के मौसम में आप निम्न सब्जियों को ग्रो कर सकते हैं, जैसे:

सर्दी के मौसम में लगाएं फूल गोभी – Grow Cauliflower in winter season in Hindi

फूल गोभी एक लोकप्रिय सब्जी है जिसको सर्दी के मौसम में लगाया जाता है। फूल गोभी को लगाने के लिए बीजों को पहले सीडलिंग ट्रे में लगाकर पौधे तैयार किये जाते है। बीज लगाने के बाद से 20-24 दिन बाद पौधे प्रत्यारोपण के लिए तैयार हो जाते हैं। इसके बाद इन पौधों को बड़े ग्रो बैग या गमले में लगाया जाता है। गोभी के पौधे को 12 x 12 इंच के ग्रो बैग में लगाया जाता है। फूलगोभी के पौधों को ठंडी जलवायु और फुल लाइट की आवश्यकता होती है। बीज लगाने के 85 से 90 दिन बाद गोभी का फूल काफी बड़ा हो जाता और यह कटाई के लिए तैयार हो जाता है।

ठंड के मौसम में लगाएं शिमला मिर्च – Capsicum vegetable to be grown in winter in Hindi

सर्दियों के मौसम में शिमला मिर्च लगा सकते हैं। शिमला मिर्च को लगाने के लिए पहले इसके बीज से पौधे तैयार करने पड़ते हैं। पौधे तैयार करने के लिए आप अच्छी क्वालिटी के शिमला मिर्च के बीज खरीद सकते हैं। मिर्च के बीजों को लगाने के लिए आप किसी भी सीडलिंग ट्रे या फिर गमले को लीजिए और इसमें मिर्च के बीज को ऊपर ऊपर बिखेर दीजिए। आधा से 1 सेंटीमीटर गहराई पर शिमला मिर्च के बीजों को लगाकर इसमें पानी दे दीजिए। शिमला मिर्च के बीज से पौधे तैयार होने में 20 से 25 दिन लगते है। इसके बाद इन पौधों को आप किसी भी बड़े गमले जिसकी साइज 12 x 12 इंच हो उसमें लगा दीजिए।

लगभग 60-65 दिन बाद आप को शिमला मिर्च तोड़ने को मिलने लगेगी। ठंड के मौसम में शिमला मिर्च को लगाया जाता है, इसलिए इसके पौधे को पानी कम और ज्यादा धूप की जरूरत होती है, इसलिए आपको शिमला मिर्च के पौधे को पानी कम देना है और उसे धूप वाली जगह पर रखना है।

सर्दियों में लगाएं हरा मटर – Winter sowing crops Peas in Hindi

मटर भी बीन्स के परिवार से है और आप इसे सर्दियों के मौसम में ग्रो कर सकते हैं। हरे मटर के पौधे नाजुक होते हैं, क्योंकि वे गर्म और आर्द्र जलवायु पसंद नहीं करते हैं। हरे मटर को अच्छी तरह से ग्रो होने के लिए ठंड और शुष्क मौसम बहुत ही अच्छा होता है। मटर के बीजों को सीधे ग्रो बैग या गमले में लगाया जाता है। हरे मटर का पौधा बेल वाला होता है और उसे जाली के सहारे की आवश्यकता होती है, इसके लिए आप अपने टेरेस पर क्रीपर नेट को लगा सकते हैं। इसके बीजों को लगाने के 80 से 90 दिन पहली बार फलियां तोड़ने मिलने लगती है। आप मटर के पौधे से तीन से चार बार तक फलियों को तोड़ सकते हैं।

विंटर सीजन में लगाएं पालक – Spinach Grow in winter season in Hindi

पालक को आप विंटर सीजन में भी लगा सकते हैं। यह एक ऐसी पत्तेदार सब्जी है जो सर्दी के साथ-साथ सभी मौसम में आसानी से ग्रो हो जाती है। पालक लगाने के लिए आपके पास जो भी मिट्टी है, उसमें अच्छी जैविक खाद मिलाकर पालक के बीज ऊपर ऊपर बिखेर दें और ऊपर से मिट्टी से कवर करने के बाद पानी दें। पानी देने के लिए आप स्प्रे बोटल का इस्तेमाल कर सकते हैं। पानी देने के लगभग 6 से 8 दिन बाद आपके पालक के बीज अंकुरित हो जाएंगे और पालक बहुत जल्द हार्वेस्ट करने को मिलने लगती है। लगभग 4 से 5 हफ्ते बाद ही आपको पालक की पहली पत्ती तोड़ने को मिल जाएगी।

पालक को आप दो से तीन बार हार्वेस्ट कर सकते हैं। आप इसकी पत्तियां तोड़ते जाएंगे तो लगभग 7 से 10 दिन बाद आपको दोबारा इसकी पत्ती तोड़ने को मिल जाएंगी। पालक के साथ आप इसी तरह की अन्य पत्ते वाली सब्जियों को भी ठंड के मौसम में लगा सकते हैं, जिसमें चौलाई भाजी (amaranth), लाल भाजी, लेटस, धनिया, मेथी, सरसों साग जैसी पत्तेदार सब्जियां शामिल हैं।

सर्दी के मौसम में लगाएं गाजर – Carrot winter vegetables to grow at home in Hindi

गाजर सबसे लोकप्रिय सब्जियों में से एक है, जिसको सर्दियों के मौसम में लगाया जाता हैं। गाजर की कई किस्में होती है जो रंग, बनावट, आकार और लंबाई में अलग अलग होती हैं। गाजर के बीजों को सीधे ग्रो बैग या गमले में लगाया जाता है, इसके लगाने के लिए पौधे को तैयार करने की जरूरत नहीं होती है। बीज बोने के 80 से 100 दिनों में किस्म के आधार पर गाजर मिट्टी से निकालने के लिए तैयार हो जाती है। गाजर की जड़ को किसी भी तरह की रुकावट से बचाने के लिए पोटिंग मिश्रण तैयार करते समय मिट्टी को बारीक तोड़ लें और उसे ढीला करने के लिए उसमें रेत और कोकोपीट मिला सकते हैं।

विंटर सीजन में लगाएं प्याज – Grow Onion in winter season in Hindi

भारत में आप ठंड के मौसम में प्याज को लगा सकते हैं, यह प्याज को ग्रो करने का सबसे अच्छा समय होता हैं। प्याज के बीज से आप पहले इसके पौधे को तैयार कर लें, ये पौधे बीजारोपण से लगभग एक महीने में तैयार हो जाते है। उसके बाद आप प्याज के पौधों को किसी बड़े ग्रो बैग में ट्रांसफर कर सकते हैं। प्याज के पौधों को फुल सनलाइट की आवश्यकता होती है। आप इन पौधों को पर्याप्त मात्रा में पानी देते रहें। प्याज की किस्म के आधार पर बीज लगाने के बाद 80-100 दिनों में प्याज हार्वेस्ट करने के लिए तैयार हो जाती हैं।

सर्दी के मौसम की सब्जी है फ्रेंच बीन्स – French beans vegetables to be grown in winter in Hindi

फ्रेंच बीन्स को आप अपने होम गार्डन में ठंड के मौसम में भी ग्रो कर सकते हैं। फ्रेंच बीन्स को बीजों से उगाया जाता है, इसे लगाने के लिए आप 15 बाई 15 इंच या इससे अधिक साइज का ग्रो बैक लीजिए। इसमें आप फ्रेंच बींस के तीन से चार बीज लगा सकते हैं। फ्रेंच बीन लगाने के लगभग 50 से 60 दिन बाद आपको फलियाँ तोड़ने को मिलने लगती है। फ्रेंच बीन खाने में तो स्वादिष्ट तो लगती ही है साथ में यह पोषक तत्वों से भरपूर होती है। तो आप अपने होम गार्डन में सर्दी के मौसम में फ्रेंच बीन्स उगा सकते हैं। आपको इनके गमले को खुली धूप में रखना होगा क्योंकि फ्रेंच बींस को धूप पसंद होती है।

ठंड के मौसम में लगाएं टमाटर – Fast growing winter vegetables Tomato in Hindi

टमाटर सभी घरों में इस्तेमाल होता है, इसे आप ठंडी के मौसम में अपने घर पर भी ग्रो कर सकते हैं। टमाटर की कई अलग-अलग वैरायटी होती हैं तो आप जो भी वैरायटी का टमाटर लगाना चाहे उसके बीज खरीद लें। टमाटर को लगाने के लिए सर्वप्रथम इसके बीजों से पौधे तैयार किए जाते हैं। पौधे तैयार करने के लिए टमाटर के बीज को मिट्टी के ऊपर ऊपर बिखेर देना है, और इसमें पानी दे दीजिए। हल्की नमी बनाए रखने के साथ टमाटर के बीज बहुत ही जल्दी जर्मिनेट हो जाते हैं और लगभग 2 से 3 हफ्ते में टमाटर के पौधे बड़े ग्रो बैग या गमले में ट्रांसफर करने के लिए तैयार भी हो जाते हैं। टमाटर को फुल सनलाइट पसंद होता है। 6 से 8 घंटे की धूप टमाटर के पौधे के लिए पर्याप्त होती है इसे आप सेमी सैड एरिया में भी रख सकते हैं।

टमाटर लगाने के लगभग 70 से 80 दिन बाद आपको टमाटर तोड़ने को मिलने लगते है। टमाटर के अच्छी तरह से ग्रो करने के लिए आपको हर महीने बदल-बदल कर ऑर्गेनिक फर्टिलाइजर देने की जरूरत होती है। टमाटर के पौधे में कई तरह के रोग लग सकते हैं, इसलिए रोगों और कीटों से टमाटर के पौधे को सुरक्षित रखने के लिए पेस्टिसाइड, लौंग के तेल या नीम तेल का इस्तेमाल किया जा सकता है। टमाटर के पौधे को सपोर्ट की जरूरत भी होती है, तो आप किसी लकड़ी की मदद से पौधे को सपोर्ट दे सकते हैं।

सर्दियों में उगाई जाने वाली सब्जी है मूली – Grow radish in winter season in Hindi

सर्दियों के मौसम में आप मूली भी लगा सकते हैं। मूली को घर में गमले में उगाना बहुत ही आसान होता है। आप इसके बीजों को सीधे ही किसी गमले या ग्रो बैग में लगा सकते हैं। मूली लगाने के लिए इसके बीज को किसी भी गमले में ऊपर ऊपर बिखेर दीजिए और मिट्टी से ढक दें। मिट्टी में अच्छी तरह से नमी को बनाए रखा जाए, तो आप देखेंगे कि कुछ ही दिनों में मूली के जो छोटे-छोटे पौधे मिट्टी से बाहर आने लगेंगे। इनके पौधों को खुली धूप की जरूरत होती है। मूली की जड़ के अलावा इसके पत्तों को भी सब्जी के रूप में उपयोग किया जाता है। मूली लगाने के लगभग 50 से 60 दिन बाद आपको मूली उखाड़ने को मिल जाएगी, जिसका इस्तेमाल आप अपने किचन में कर सकते हैं।

सर्दी के मौसम की बेस्ट सब्जी लेटस – Lettuce Best growing vegetables in winter season in Hindi

लेट्स या लेट्यूस को आप सर्दी के मौसम में भी ग्रो कर सकते हैं। यह बहुत ही लोकप्रिय सलाद पत्ता होता है, जो आपको कई वैरायटी में मिल जायेगा जैसे कि लेटस् आइसबर्ग (Lettuce Iceberg) और लेटस लोलो रोसो (Lettuce Lollo Rosso) आदि। चूँकि बाजारों में आपको यह सब्जी आसानी से फ्रेश नहीं मिलती है, इसलिए आप इसे अपने होम गार्डन या टेरेस गार्डन में विंटर सीजन में ग्रो कर सकते हैं। लेटस के बीजों को आप अपने गमले या ग्रो बैग में सीधे ही लगा सकते हैं। बीज लगाने के 45 से 60 दिनों के बाद आपको लेटस हार्वेस्ट करने मिल जाएगी।

पत्ता गोभी ठंड के मौसम में लगाई जाने वाली सब्जी – Cabbage vegetable to be planted in winter season in Hindi

पत्ता गोभी एक लोकप्रिय सब्जी है जिसको सर्दी के मौसम में लगाया जाता है। पत्ता गोभी को लगाने के लिए बीजों को पहले सीडलिंग ट्रे में लगाकर पौधे तैयार किये जाते है। बीजों को अंकुरित होने में 7 से 15 दिन लगेंगे। बीज लगाने के 4 से 6 सप्ताह बाद पौधे प्रत्यारोपण के लिए तैयार हो जाते हैं। इसके बाद इन पौधे को बड़े ग्रो बैग या गमले में लगाया जाता है। पत्ता गोभी के पौधे को 12 x 12 इंच के ग्रो बैग में अच्छी तरह से ग्रो किया जा सकता है। पत्ता गोभी के पौधों को ठंडी जलवायु और फुल लाइट की आवश्यकता होती है। बीज लगाने के 95 से 150 दिनों बाद पत्ता गोभी का फूल काफी बड़ा हो जाता और यह तोड़ने के लिए तैयार हो जाता है।

सर्दियों में बोएं धनिया के बीज – Sowing coriander seeds in winter season in Hindi

धनिया जो कि एक मसाले के रूप में इस्तेमाल होती है। आप धनिया पत्ती सर्दियों के सीजन में अपने टेरेस गार्डन पर उगा सकते हैं। धनिया को उगाना बहुत आसान होता है और इसे बहुत ज्यादा ठंड में उगाया जा सकता है। धनिया उगाने के लिए आपको इसके अच्छी क्वालिटी के बीज लेने होंगे। बीजों को आप गमले या ग्रो बैग की मिट्टी के ऊपर दें और मिट्टी की हल्की परत से ढक दें। बीज बोने के लगभग 7 से 10 दिन बाद धनिया के बीज जर्मिनेट हो जाते हैं और लगभग 35 से 40 दिन बाद आपको धनिया पत्ती तोड़ने को भी मिलने लगेगी।

धनिया उगाने के लिए बस इस बात का ध्यान रखें की जब बहुत ज्यादा ठंड होती है तो धनिया को खुली धूप में उगाया जाता है। धनिया को नमी युक्त मिट्टी पसंद होती है लेकिन यदि ज्यादा पानी गमले में रुकेगा तो आपकी धनिया खराब भी हो सकती है।

ठंड के मौसम में लगाएं मिर्च – Winter sowing vegetables chilli in Hindi

मिर्च को आप सर्दी के मौसम में भी लगा सकते हैं। मिर्च को लगाने के लिए इस के पौधे तैयार करने पड़ते हैं। पौधे तैयार करने के लिए आप अच्छी क्वालिटी के मिर्च के बीज खरीद सकते हैं। मिर्च के बीजों को लगाने के लिए आप किसी भी सीडलिंग ट्रे या फिर गमले को लीजिए, इसमें मिर्च के बीज को भिखेर दीजिए तथा आधा से 1 सेंटीमीटर मिट्टी की परत से ढक देने के बाद पानी दें। मिर्च के बीज से पौधे तैयार होने में 2 से 3 सप्ताह लगते हैं। 20 से 25 दिन बाद इन पौधों को आप किसी भी बड़े गमले जिसकी साइज 12 बाई 12 इंच हो उसमें लगा दीजिए। लगभग 60 दिन बाद आपको मिर्च तोड़ने को मिलने लगेगी।

मिर्च के पौधे को कम पानी और ज्यादा धूप की जरूरत होती है, इसलिए आपको मिर्च के पौधे को पानी कम देना है और उसे धूप वाली जगह पर रखना है। यदि आप ओवरवाटरिंग करेंगे तो आपके मिर्च के पौधे के सारे फूल झड़ जाएंगे और उनमें फल भी नहीं आएंगे।

सर्दियों में ग्रो होने वाली सब्जी लौकी – Grow bottle gourd in winter season in Hindi

लौकी को भी आप सर्दी के मौसम में लगा सकते हैं। हालांकि लौकी साल भर होम गार्डन में ग्रो की जा सकती है, लेकिन सर्दियों की लौकी सबसे अच्छी होती है। लौकी लगाने के लिए आप इसे सीधे 15 x 15 इंच या इससे बड़े साइज के गमले या ग्रो बैग में दो लौकी के बीज लगा दीजिए। जब लौकी के पौधे कुछ बड़े हो जाएं, तो आपको एक गमले में एक लौकी का पौधा ही रखना हैं। लौकी लगाने के लगभग 60 दिन बाद हमें लौकी तोड़ने को मिलने लगती है। लौकी में बहुत ज्यादा रोग भी नहीं लगते हैं, लेकिन लौकी में पॉलिनेशन की समस्या आती है इसलिए हमेशा ध्यान रखें कि 2 से 4 लौकी के पौधे जरूर लगाएं ताकि लौकी के पौधे में सही से पॉलिनेशन हो पाए और आपको ढेर सारी लौकी हार्वेस्ट करने को मिले।

बैंगन ग्रो करने का सही समय सर्दी का मौसम – Brinjal Best growing season is winter in Hindi

बैंगन जिसे ब्रिंजल या एगप्लांट भी कहा जाता है। इसे आप सर्दी के मौसम में भी ग्रो कर सकते हैं। वैसे तो बैंगन की ढेर सारी वैरायटी होती हैं, लेकिन हरे बैंगन और ब्लैक बैगन काफी ज्यादा पसंद किए जाते हैं। बैंगन लगाने के लिए 12 x 12 इंच या इससे अधिक साइज़ का गमला लेना सही होता हैं। बैगन को उगाने के लिए आपको इसके बीज से पौधे तैयार करने होते हैं। पौधे तैयार होने में 20 से 25 दिन लगते हैं। पौधे तैयार होने के बाद आप इन्हें बड़े गमले या ग्रो बैग में लगा दीजिए और इसे धूप वाली जगह पर रख दीजिए क्योंकि बैगन को डायरेक्ट सनलाइट पसंद होता है। पौधा लगाने के लगभग 45 से 50 दिन बाद इसमें फूल आने लगते हैं और 60 से 70 दिन में आपको बैगन तोड़ने को मिलने लगेगें।

आपको बैंगन के गमले को धूप वाली जगह में रखना है और समय-समय पर पानी देते रहना है। जब आपको ग्रो बैग या गमले के ऊपर की मिट्टी सूखी दिखे तभी आपको अपने बैंगन के पौधे में पानी देना है।

निष्कर्ष – Conclusion

इस आर्टिकल में हमने सर्दी के मौसम में लगाई जाने वाली सब्जियों की जानकारी दी हैं। अपने किचन गार्डन या फिर टेरेस गार्डन में इन सभी सब्जियों को उगाना बहुत ही आसान है, तो इस विंटर सीजन में आप इन सभी सब्जियों को अपने होम गार्डन पर जरूर लगाएं और यदि आपको भी कोई ऐसी सब्जी पता है जिसे ठंड के मौसम में उगाया जा सकता है तो उसे कमेंट में जरूर लिखें ताकि दूसरे लोगों को उसके बारे में पता चल पाए।

Bhumika

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments