Wednesday, May 22, 2024
Homeकृषि समाचारMango: लखनऊ में इस साल 'दशहरी आम' को टक्कर देगी नई वैरायटी,...

Mango: लखनऊ में इस साल ‘दशहरी आम’ को टक्कर देगी नई वैरायटी, किसानों को होगा बंपर मुनाफा

Lucknow Mango News: लखनऊ के मलिहाबाद के दशहरी आम (Dussehri Aam) सदियों से बाजार में अपनी धाक जमाए हुए हैं. इसलिए देश- विदेश तक इसकी डिमांड हैं. लेकिन, पिछले कुछ वक्त से देखने को मिला है कि दशहरी आमों का स्वाद लोगों को अब कम पसंद आ रहा है. ऐसे में मलिहाबाद के किसानों ने भी अब दशहरी आम की जगह रंग-बिरंगे नई वैरायटी के आम लगाकर कमाई करने का फैसला लिया है. यही वजह है कि किसान अब दशहरी की जगह दूसरी वैरायटी के आम लगा रहे हैं. इस साल बाजार में मलिहाबाद क्षेत्र के कई किसान अपने नए आम बाजार में पहली बार उतारेंगे. इनका स्वाद दशहरी से भी कई गुना अच्छा होगा. ये देखने में भी बेहद खूबसूरत लगेंगे, जिससे किसानों की कमाई काफी अच्छी होगी.

दशहरी आम से किसानों को नहीं मिल रहा फायदा

आम उत्पादक एवं बागवानी समिति के महासचिव उपेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि दशहरी आम जल्दी खराब हो जाते हैं. इन्हें लगाने से किसानों को अब उतना फायदा नहीं होता है जितना पहले हुआ करता था. क्योंकि, अब दशहरी को टक्कर देने के लिए विदेशी प्रजाति के साथ ही कई नए आम बाजार में आ गए हैं. लोग उनके स्वाद को ज्यादा पसंद कर रहे हैं.

नई वैरायटी के आम देखने में भी खूबसूरत

उन्होंने बताया कि लोग दशहरी से ज्यादा उन आमों को खरीद रहे हैं. ऐसे में किसान अपने फायदे के लिए अब दशहरी के साथ-साथ नई किस्म के आम भी लगा रहे हैं. इस बार भी बाजार में मलिहाबाद के किसानों के कई रंग-बिरंगे आम देखने के लिए मिलेंगे. इनकी कीमत दशहरी से ज्यादा होगी. ये आम मार्केट में अच्छी कीमतों पर बिकेंगे. देखने में भी खूबसूरत लगते हैं, जिससे किसानों को फायदा होगा. वहीं नई वैरायटी के आम लोगों को जुलाई और अगस्त तक खाने को मिलेगा.

जानिए आमों की नई वैरायटी के नाम

आम के प्रगतिशील किसान ने बताया कि बाजार में अब जो नए आम आएंगे वह अगस्त, मटका गोला, आमीन, जामुन, मुंजजर आमीन, तुखमी हीरा आम, टॉमी एटकिन,अंबिका, पूसा अरुणिमा, पूसा सूर्या, पूसा प्रतिभा, पूसा श्रेष्ठ, पूसा लालिमा और पूसा पीताम्बर आम होंगे. सेंसेशन भी नया आम है. इन सभी नए आमों को मलिहाबाद के किसानों ने लगाया है. आने वाले वक्त में यही नए आम ज्यादातर लोगों को खाने के लिए मिलेंगे. जिसका स्वाद दशहरी आम से ज्यादा अच्छा होगा.

चुनाव में ‘Modi Mango’ की चर्चा

उपेंद्र कुमार सिंह बताते हैं कि सदियों से आम की दुनिया में अपनी बादशाहत कायम रखने वाले दशहरी, लंगड़ा और चौसा जैसे आमों का अस्तित्व मोदी मैंगो के आने के बाद खतरे में पड़ जाएगा, क्योंकि यह आम खाने में इतना लजीज और ठोस है कि एक आम खाने से ही आपका पेट भर जाएगा. एक आम 500 ग्राम का होगा. उन्होंने बताया कि मोदी मैंगो आम का पेड़ उन्होंने लगाया था. इस पर इस बार अच्छे बौर आए हैं.

Bhumika

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments